October 7, 2021

Knowledge Plus TV

आगे बढ़ रहे हैं..

Barabanki News- वकील ने अपनी पत्नी को नहीं दिया तलाक, तो प्रेमी ने दोस्त के साथ मिलकर कर दी हत्या,

Views: 1 32611 min read
Views: 1 3262
Spread the love

Barabanki Story- वकील ने अपनी पत्नी को नहीं दिया तलाक, तो प्रेमी ने दोस्त के साथ मिलकर कर दी हत्या, अवैध संबंधों के चलते रची पूरी साजिश

बाराबंकी में बीते दिनों हुए वकील हत्याकांड का बाराबंकी पुलिस ने खुलासा कर दिया है। पुलिस ने इस मामले में वकील की पत्नी के साथ उसके प्रेमी और वारदात को अंजाम देने वाले उसके दोस्त को गिरफ्तार किया है। पुलिस के खुलासे के मुताबिक इस हत्याकांड को अवैध संबंधों के चलते अंजाम दिया गया था। पत्नी ने ही वकील पति को रास्ते से हटाने के लिए हत्या की पूरी साजिश रची थी।

दरअसल बीती पांच सितम्बर को कुलदीप रावत नाम के एक वकील का शव नगर कोतवाली क्षेत्र में हाईवे के किनारे नारे पुरवा गांव में पोल्ट्री फार्म के पास मिला था। उसकी गला रेतकर हत्या की गई थी। इस मामले की पड़ताल के दौरान पुलिस को जानकारी मिली कि ग्राम छेदा का पुरवा मजरे पड़रा थाना सफदरगंज निवासी अधिवक्ता कुलदीप रावत की पत्नी रीता उर्फ लक्ष्मी ने दो साल पहले शहर के आजाद नगर में लक्ष्मी ब्यूटी पार्लर खोला था। रीता का पड़ोस में टेंट और लाइट हाउस चलाने वाले मन्टू उर्फ विवेक वर्मा के साथ प्रेम संबंध हो गया था। मन्टू अक्सर ब्यूटी पार्लर का आर्डर रीता को दिलवाता था। ऐसे में दोनों के बीच संबंध गहरे होते चले गए।

पुलिस के खुलासे के मुताबिक रीता और मन्टू अक्सर फोन पर देर तक बात किया करते थे। फोन पर हमेशा बात करने के चलते बीते कुछ दिन पहले कुलदीप ने अपनी पत्नी का फोन तोड़कर फेंक दिया था। जिस पर पति-पत्नी में काफी झगड़ा भी हुआ। इसकी जानकारी होने पर मन्टू वर्मा ने रीता से कहा कि वह उससे शादी करेगा, इसलिए कुलदीप से तलाक ले लो। रीता की तालाक की बात को कुलदीप ने इनकार कर दिया। फिर इसके बाद मन्टू ने हत्या की साजिश रीता के साथ मिलकर रची। इस योजना में बगल की मोबाइल की दुकान में काम करने वाले पंकज कुमार यादव को भी शामिल किया। योजना के तहत पंकज ने अपने नए नंबर से कुलदीप को फोन कर जमीन दिलवाने के नाम पर तीन-चार लाख रुपए कमीशन की बात कहते हुए उसे नारे पुरवा गांव में पोल्ट्री फार्म के पास बुलाया। पंकज यादव और कुलदीप बात कर रहे थे तभी मन्टू वर्मा ने पीछे से कुलदीप के गले में चाकू मार दिया। कुलदीप ने भागने का प्रयास किया, लेकिन उसकी मोटरसाइकिल स्टार्ट नहीं हुई तो पंकज और मन्टू ने उसे बाइक समेत गिरा दिया और उसे बेरहमी से मौत के घाट उतार दिया।

वहीं कुलदीप रावत हत्याकाण्ड का खुलासा करते हुए बाराबंकी के पुलिस अधीक्षक यमुना प्रसाद ने कहा कि इस मामले में वकील की पत्नी ने प्रेमी टेंट व्यवसायी के कहने पर पति से तालाक मांगा। वकील ने इनकार किया तो प्रेमी ने अपने साथी के साथ मिलकर जमीन दिलाने और तीन-चार लाख कमीशन देने की बात कहकर बुलाया। इसके बाद धारदार हथियार से गला रेतकर हत्या कर दी। इस मामले में वकील पत्नी उसके प्रेमी और सहयोगी को जेल भेजा जा रहा है।

//nessainy.net/4/4491393