October 7, 2021

Knowledge Plus TV

आगे बढ़ रहे हैं..

Devariya News-देवरिया में बढ़े वायरल संक्रमण के मरीज, एक बेड पर तीन तीन बच्चों का हो रहा इलाज

Views: 1 7781 min read
Views: 1 779
Spread the love

देवरिया में बढ़े वायरल संक्रमण के मरीज, एक बेड पर तीन तीन बच्चों का हो रहा इलाज

देवरिया
मौसमी बदलाव के चलते तापमान घटने- बढ़ने से जलजनित, मच्छरजनित एवं मौसमी बीमारियों का प्रकोप बढ़ गया है। नतीजतन जिला अस्पताल में वायरल फीवर, टायफाइड, सर्दी-जुकाम, उल्टी- दस्त व पेट दर्द के मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है। मासूम बच्चों पर बीमारी का असर ज्यादा हैं। हालात यह है कि चिल्ड्रेन आईसीयू वार्ड में बेड कम पड़ गए हैं , और एक बेड पर तीन तीन बच्चों को लिटा कर इलाज किया जा रहा है। इसी बीच डेंगू का भी एक मरीज मिलने से स्वास्थ्य विभाग की मुश्किलें बढ़ गई हैं।

संक्रमण के शिकार बच्चों की संख्या 2 गुना तक पहुंची

वायरल संक्रमण का असर बच्चों पर सर्वाधिक है। क्योंकि कि सामान्य दिनों में रोजाना 50 से 60 बच्चे ही इलाज के लिए आते थे। मगर वायरल संक्रमण बढ़ने के बाद रोजाना सौ से ऊपर पीड़ित बच्चे इलाज के लिए जिला अस्पताल आ रहे हैं। जिसके चलते चिल्ड्रेन वार्ड का आईसीयू में बेड कम पड़ रहे हैं और एक बेड पर तीन तीन बच्चों का इलाज किया जा रहा है।अपने 3 साल के बेटे को चिल्ड्रन वार्ड के आईसीयू में भर्ती कराकर इलाज करा रही अनीता ने बताया कि उनका बेटा पिछले 3 दिनों से इस वार्ड में भर्ती है। उसके सीने में दर्द ,खांसी और बुखार की शिकायत है ।कभी-कभी उल्टी हो रही है।अनीता ने बताया कि बुखार कभी हो रहा है और कभी उतर जा रहा है। चिकित्सक इसे मौसमी बीमारी बता रहे हैं।

अचानक शुरू हो जा रही है बच्चों में सांस की समस्या

चौथी प्रसाद के बेटे को सांस लेने की दिक्कत शुरू है। उनका बेटा भी चिल्ड्रेन वार्ड में भर्ती है। चौथी ने बताया कि अचानक बीमारी शुरू हो गई और यहां लाकर इलाज शुरू कराया । इसी वार्ड में भर्ती एक अन्य बच्चे के तीमारदार ने बताया कि उनके बेटे को झटका आने की शिकायत अचानक शुरू हो गई। जिसके चलते यहां लाकर भर्ती कराना पड़ा। सभी मरीजों की लगभग एक ही शिकायत है कि एक बेड पर दो से तीन बच्चों का इलाज किया जा रहा है।जिससे न केवल इलाज में दिक्कतें हो रही हैं बल्कि संक्रमण बढ़ने का भी खतरा है। चाइल्ड स्पेशलिस्ट डॉक्टर ए के श्रीवास्तव की माने तो वायरल संक्रमण के चलते बच्चों में अचानक सांस लेने की दिक्कत एवं झटका आने की समस्या शुरू हो रही है।

प्रभारी चिकित्सा अधीक्षक डा. एचके मिश्रा ने बताया कि मौसम में अचानक बदलाव के चलते वायरल का संक्रमण बढ़ गया है।जिससे पीड़ित बच्चों की संख्या बढ़ गई है। प्राथमिक ईलाज के लिए बच्चों को आईसीयू में भर्ती कर ईलाज के बाद उन्हें सामान्य वार्ड में भर्ती किया जा रहा है। मरीजों की बढ़ती संख्या के मद्देनजर आईसीयू में 20 बेड बढ़ाने की व्यवस्था की जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *